हिमाचल पुष्प क्रांति योजना 2022 आवेदन पत्र PDF, उद्देश्य, लाभ

हिमाचल पुष्प क्रांति योजना 2022 आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड, HP Pushp Kranti Yojana application form PDF available to download at himachalforms.nic.in, check benefits, objectives, complete details here
Updated: By: No Comments - Leave a Comment

Himachal Pushp Kranti Yojana 2022 Application Form PDF is available to download at himachalforms.nic.in. Check apply process for HP Pushp Kranti Yojana, guidelines here. हिमाचल पुष्प क्रांति योजना के जरिए युवा किसान फूलों की खेती करके अच्छी कमाई कर सकते हैं. Also check budgetary allocation made by Himachal Pradesh government in the HP Budget 2022-23 for Pushp Kranti Yojna.

हिमाचल पुष्प क्रांति योजना क्या है

हिमाचल प्रदेश में उच्च मूल्य वाले फूलों की संरक्षित खेती को बढ़ावा देन हेतु एक नई हिमाचल पुष्प क्रांति योजना शुरू की गई है. पुष्प क्रांति योजना के तहत फूलों के उत्पादन के लिए उच्च तकनीक वाले पॉलीहाउस, किसानों को प्रशिक्षण और अन्य साधन उपलब्ध कराए जाते हैं. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हिमाचल पुष्प क्रांति योजना में बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के हिसाब से लोन उपलब्ध कराने की पहल भी की है. पुष्प क्रांति योजना के जरिए युवा किसान फूलों की खेती करके अच्छी कमाई कर सकते हैं.

पुष्प क्रांति योजना के तहत फूल उगाने के लिए उच्च तकनीक वाले पॉलीहाउस बनाने और पुष्प की खेती के बारे में किसानों को जानकारी दी जाती है. हिमाचल प्रदेश का वातावरण पुष्प उगाने के लिहाज से भी अनुकूल है, इस वजह से सरकार युवाओं को फूलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करना चाहती है. निजी क्षेत्र की पुष्प विपणन क्षेत्र में सहभागिता व कृषि संपदा योजना के तहत कोल्ड चेन स्थापित करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है. पुष्प क्रांति योजना से राज्य में रोजगार के मौके बढ़ाने में भी काफी मदद मिलेगी. इसमें कुशल एवं अकुशल, दोनों तरह के लोगों के लिए रोजगार के मौके बन सकेंगे.

क्या है पुष्प क्रांति योजना का उद्देश्य

  • हिमाचल पहले ही फूलों के उपज के मामले में देश के अग्रणी राज्यों में शामिल है. सरकार प्रदेश के अधिक से अधिक युवाओं को पुष्प की खेती के लिए आकर्षित करना चाहती है.
  • इससे प्रदेश से पलायन रोकने और युवाओं की आमदनी बढ़ाने में मदद मिलेगी. संरक्षित वातावरण में साल भर विविध किस्मों के फूल पैदा किए जा सकते हैं.
  • फूलों की संरक्षित खेती से किसानों को मौसम से होने वाले नुकसान और जंगली जानवरों से भी सुरक्षा मिलेगी.

फूल भेजने पर भी किराये में राहत

हिमाचल प्रदेश से फूल बसों के जरिये राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के बाजारों में भेजे जाते हैं. सरकार रोडवेज बस के किराये में पुष्प की खेती करने वाले युवाओं को 25% छूट दे रही है. मुख्यमंत्री ने बजट भाषण में घोषणा की थी कि राज्य सरकार हिमाचल को पुष्प प्रदेश के रूप में विकसित करेगी.

पुष्प क्रांति योजना के लाभ

  • पुष्प क्रांति योजना के तहत संरक्षित वातावरण में साल भर फूलों की विभिन्न किस्में उग सकती हैं.
  • फूलों की संरक्षित फसलों से किसानों को मौसम और जंगली जानवरों से नुकसान होने पर मदद मिलेगी.
  • राज्य सरकार पुष्प क्रांति योजना के लिए युवाओं को ऋण सुविधा भी देगी.
  • हिमाचल सरकार की तरफ से पुष्प उत्पादन के लिए उच्च तकनीक वाले पॉलीहाउस, किसानों को प्रशिक्षण व अन्य साधन के लिए 10 करोड़ रुपये का आवंटन.

राज्य में इस समय क्या है फूलों की खेती की स्थिति

  • हिमाचल में इस समय 642.48 हेक्टेयर भूमि में फूलों की खेती की जाती है.
  • 98.51 हेक्टेयर भूमि में ही संरक्षित माहौल में खेती हो पाती है.
  • राज्य में इस समय 5000 किसान और आठ पुष्प उत्पादक समिति फूलों की खेती में लगी हैं.
  • पिछले साल 87.25 करोड़ रुपये मूल्य के फूल उगाये गए.

हिमाचल पुष्प क्रांति योजना एप्लीकेशन फॉर्म PDF डाउनलोड

हिमाचल पुष्प क्रांति योजना आवेदन पत्र PDF डाउनलोड करने का सीधा लिंक – https://himachalforms.nic.in/pdfs/Horticulture/ApplicationFormForAvailingAssistanceunderhimachalpushapkrantiyojna.pdf

हिमाचल पुष्प क्रांति योजना आवेदन फॉर्म कुछ इस प्रकार दिखाई देगा:-

Himachal Pushp Kranti Yojana Application Form PDF
Himachal Pushp Kranti Yojana Application Form PDF

पुष्प क्रांति योजना आवेदन कैसे करें

  • पुष्प क्रांति योजना के तहत सरकारी मदद प्राप्त करने के लिए आप अपने इलाके के बागवानी निदेशक से संपर्क कर सकते हैं.
  • पुष्प क्रांति योजना में आपको संरक्षित खेती के लिए उच्च तकनीक वाले पॉली हाउस बनाने के लिए वित्तीय मदद मिलेगी.
  • प्रदेश में पहले ही सोलन, बिलासपुर, मंडी व हमीरपुर जिला में बड़े पैमाने पर फूल उगाये जाते हैं.
  • इसके साथ ही खेती को आवारा पशुओं से बचाने के लिए सरकार खेत संरक्षण योजना में सोलर बाड़ लगाने के लिए भी 85% तक सब्सिडी देगी.

क्या है पॉलीहाउस तकनीक

  1. जिन इलाके में परंपरागत खेती नहीं हो सकती, वहां इस तकनीक की मदद से फसल के उपज की संभावना बनती है.
  2. फसलों की उत्पादकता एवं गुणवत्ता बढ़ जाती है.
  3. किसी भी स्थान पर सालों भर खेती संभव है.
  4. किसी भी फसल को किसी भी स्थान पर वर्ष पर्यन्त उत्पादित किया जा सकता है.
  5. बहुत कम क्षेत्र में फसलोत्पादन करके अच्छी कमाई की जा सकती है.

Pushp Kranti Yojana in HP Budget 2022-23

Regarding HP Pushp Kranti Yojana 2022, Finance Minister said the following things in his budget speech. He mentioned “Speaker Sir, Himachal Pradesh is known as Fruit Bowl of the country. Our Government has always strived to promote horticulture sector. A new Horticulture Policy will be prepared to increase production and productivity.

Initiatives under Pushp Kranti Yojana in Himachal Pradesh

Following initiatives will be taken under Pushp Kranti Yojana in Himachal Pradesh:-

Himachal Pradesh Govt Schemes 2022Popular Schemes in Himachal Pradesh:Himcare SchemeHimachal Pradesh Ration Card ListHimachal Grihini Suvidha Yojana

  • To promote floriculture, orchids and ornamental plantations will be encouraged. Rs. 11 Crore will be spent under Pushap Kranti Yojana.
  • Special plantation drive will be started for Bee-Flora and Indian varieties of bees will be encouraged. Rs. 4.5 Crore will be spent on this.
  • Rs. 3.0 Crore will be spent to promote production of Shitaake and Dhingri varieties of mushrooms and their processing and canning.
  • Clusters will be set up for the cultivation of Jamun and Mewa (Dry Fruit).
  • High Density plantations and Immunity Booster crops will be promoted.

For more details on Pushp Kranti Yojana as mentioned in HP Budget 2022-23, click the link – https://ebudget.hp.nic.in/Aspx/Anonymous/pdf/FS_Eng_2022.pdf

HP Pushp Kranti Yojana Guidelines – https://eudyan.hp.gov.in/cms/schemess/himachal-pushp-kranti-yojna

Leave a Comment

CLOSESHARE ON: