MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana 2021 | मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना पंजीकरण फॉर्म / आवेदन पत्र / दस्तावेज़ सूची – दिल के रोग से प्रभावित बच्चों के लिए फ्री इलाज

MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana 2021 online registration / application form, मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना पंजीकरण / आवेदन पत्र at mpedistrict.gov.in, बच्चों के लिए फ्री इलाज, दस्तावेज़ सूची, पूरी जानकारी
Updated: By: No Comments - Leave a Comment

मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में बच्चों में जन्म से हृदय या दिल से संबंधित बीमारी के उपचार के लिए मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना (Mukhyamantri bal hriday upchar yojana MP) चला रखी है। मध्य प्रदेश की इस मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना 2021 के तहत जो बच्चे जन्म से दिल, हृदय से संबंधित रोग से ग्रसित होकर पैदा होते हैं उनको मुफ्त चिकित्सा उपलब्ध कराई जाएगी। इस सरकारी योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वित्तीय वर्ष 2011 में शुरू किया था। बच्चों के हृदय या दिल से जुड़ी बीमारियों के उपचार के लिए शुरू की गई इस योजना का लाभ केवल वही व्यक्ति उठा सकते हैं जो गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line – BPL Category) आते हों।

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना 2021 – कैसे करें आवेदन / पंजीकरण

ऐसे परिवार जो गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे हैं और रोगी बच्चे की उम्र 0 से 15 साल के बीच है वही इस मध्य प्रदेश की मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना 2021 (Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana MP) का लाभ प्राप्त करने के पात्र होंगे। मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना एमपी में शासकीय एवं अधिकृत निजी चिकित्सालयों, अस्पतालों में (Free Treatment in Government and Authorized Private Hospitals) 1 लाख रूपये तक का मुफ्त हृदय रोग से संबंधित इलाज प्राप्त किया जा सकता है।

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना 2021 (MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Online Form) के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करना है या फिर आवेदन पत्र कहां पर जमा करना है इसके लिए आप नीचे आर्टिक्ल को पढ़ सकते हैं।

एमपी मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म / लॉगिन

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गयी इस मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र (MP Mukhyamantri bal hriday upchar yojana online application form) भरने के लिए आपको पंजीकरण करना होगा। जिसके लिए आप नीचे दिये गए चरणों को फॉलो कर सकते हैं:

STEP 1: उम्मीदवारों को सबसे पहले मध्य प्रदेश राज्य लोक सेवा अभिकरण के आधिकारिक पोर्टल http://mpedistrict.gov.in/MPL/Home.aspx पर जाना होगा।

STEP 2: वेबसाइट पर जाने के बाद “एम.पी. लोक सेवा गारंटी पोर्टल” पर क्लिक करना होगा या सीधा इस लिंक http://mpedistrict.gov.in/MPL/index.aspx पर जाए। अधिक जानकारी एवं सेवा प्राप्त करने के लिए लोकसेवा केंद्र पर संपर्क करे अथवा लॉग-इन कर ऑनलाइन आवेदन करें|

STEP 3: इसके लिए वेबसाइट के ऊपर के दाएं भाग में “नागरिक पंजीयन” लिंक पर क्लिक करें या सीधा इस लिंक http://mpedistrict.gov.in/MPL/CitizenRegistration.aspx पर क्लिक करें:-

MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Online Registration
MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Online Registration

STEP 4: ऑनलाइन पंजीकरण के बाद आवेदन को लॉगिन करना होगा, जिसके लिए एम.पी. लोक सेवा गारंटी पोर्टल पर “Login” लिंक पर क्लिक करना होगा या सीधा इस लिंक http://mpedistrict.gov.in/MPL/Login.aspx पर क्लिक करें:-

Madhya Pradesh Government Schemes 2021मध्य प्रदेश सरकारी योजना हिन्दीPopular Schemes in Madhya Pradesh:Mukhyamantri Rural Street Vendor Loan SchemeMP E Uparjan Rabi 2020-21 Farmers RegistrationMP Mukhyamantri Yuva Udyami Yojana (MMYUY)

MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Login
MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Login

STEP 5: इस पेज पर ईमेल / मोबाइल नंबर / यूजर आईडी, पासवर्ड भरके लॉगिन करें जिसके बाद मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र खुल जाएगा।

STEP 6: एमपी मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना 2021 योजना के लिए पंजीकरण / आवेदन फॉर्म में पूछी गई जानकारी ध्यानपूर्वक भर कर “जमा करें” बटन पर क्लिक कर दें या ‘Print Form’ कर लें।

एमपी सरकार के द्वारा सत्यापन कर लेने के बाद बच्चे का उपचार सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में निशुल्क में हो जाएगा। Mukhyamantri bal hriday upchar yojana MP में चिन्हित बीमारियों जैसे की वेन्ट्रीकुलर सेप्टल डिफेक्ट के लिए 90 हजार, एट्रियल सेप्टल डिफेक्ट के लिए 80 हजार, टेट्रोलाजी आफ फैलोट के लिए 1 लाख, पेटेंट डक्ट्स एट्रियोसिस के लिए 65 हजार, पल्मोनरी एस्टेनोसिस के लिए 1 लाख रूपये, कोआर्कटेशन आफ एओरटा के लिए 1 लाख और रह्यमेटिक हार्ट डिसिस उपचार पैकेज के लिए 1 लाख रूपये तक की वित्तीय सहायता दी जाती है।

इसके अलावा मध्य प्रदेश की सरकार थेलेसिमिया और डायबिटीज (Thalassemia and Diabetes) से पीड़ित बच्चों के फ्री इलाज की व्यवस्था भी करने जा रही है, जिसके लिए जल्द ही अलग से योजना बनाई जाएगी।

Download Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Application Form PDF

मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना के अंतर्गत होने वाले इलाज और ऑपरेशन का सभी खर्च राज्य शासन द्वारा वहन किया जाएगा। इसके अलावा किसी भी अन्य जानकारी के लिए http://mpedistrict.gov.in/MPL/ShowServiceDetail.aspx?param=OPkKx2RwkmFXEdDNoHnsuZVMdEV+S6hV5yriv/wV8Kpl7mrDRVGqcK2fxNWi8h2yJn3KQVTMd5nzdYvxZ5j265XkYY/BTdfclhUrQo0uXpnpUQpxpiKu+YMEC9E2tmG8 पर जा सकते हैं।

इस पेज पर “फॉर्म / परिपत्र देखें” के अंतर्गत “फॉर्म देखें” लिंक पर क्लिक करें जैसे यहाँ पर दिखाया गया है:-

MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Apply Form
MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Apply Form

एमपी मुख्यमंत्री बाल ह्रदय उपचार योजना आवेदन पत्र पीडीऍफ़ कुछ इस प्रकार दिखाई देगा:-

MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Application Form PDF Download
MP Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Application Form PDF Download

इस फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद सभी जानकारी भरनी होगी। इसके बाद सम्बंधित विभाग में आवेदन / पंजीकरण पत्र जमा करने पर आप इस योजना का लाभ ले पाएंगे।

Direct Link for Mukhyamantri Bal Hriday Upchar Yojana Form PDF – http://mpedistrict.gov.in/MPL/DisplayServiceForm.aspx?ParamDownloadForm=05RYlMoDTVA=

समय सीमा

शहरी क्षेत्र के लिए: 20 कार्य दिवस
ग्रामीण क्षेत्र के लिए: 20 कार्य दिवस

एमपी मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना आवश्यक दस्तावेज़

एमपी मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना के तहत सलंग्न किये जाने वाले महत्वपूर्ण दस्तावेज निम्न्लिखित हैं:-

  • शासकीय चिकित्सालय अथवा शासन द्वारा मान्यता प्राप्त निजी चिकित्सालय का प्राक्कलन (एस्टिमेट)।
  • आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण इलाज करा पाने में अक्षम होने का प्रमाण-पत्र (परिवार सूची सहित)- ग्रामीण क्षेत्र के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत द्वारा अधिकृत अधिकारी। / शहरी क्षेत्र में नगरपालिका/नगर परिषद के क्षेत्र में मुख्य नगर पालिका अधिकारी एवं नगर निगम क्षेत्र में आयुक्त द्वारा अधिकृत अधिकारी।
  • रोगी की आयु के संबंध में प्रमाण (जन्म प्रमाण पत्र / अंकसूची / आधार कार्ड / पंचायत द्वारा सत्यापित प्रमाण-पत्र/ अन्य सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी प्रमाण पत्र। 
  • हाल ही के पासपोर्ट साईज़ के 2 रंगीन फोटोग्राफ ।

मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना आवेदन और शुल्क संबधित जानकारी

आवेदन कहाँ करेंशुल्क
Lok Seva KendraRs. 40
MPOnline KioskRs. 40
Common Service CentreRs. 40
MP Bal Hriday Upchar Yojana Fees

हृदय रोग से प्रभावित बच्चों का होगा इलाज

प्रदेश में हृदय रोग से प्रभावित बच्चों के उपचार के लिये मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना शुरू की गयी है। इस योजना में जुलाई माह में हृदय रोग से प्रभावित बच्चों का ऑॅपरेशन कराया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि योजना में हृदय रोग से प्रभावित गरीब बच्चों के उपचार को प्राथमिकता दी जाये। प्रत्येक मेडिकल कॉलेज में ऐसे बच्चों के परीक्षण की व्यवस्था रहे। जिन बच्चों के ऑॅपरेशन किये जायें, उनके लिये ऑॅपरेशन के बाद लगने वाली दवाइयों आदि की व्यवस्था भी रहे। योजना के तहत राज्य बीमारी सहायता निधि, मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान के साथ ही दानदाताओं से भी मदद ली जाये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भोपाल और इंदौर के मेडिकल कॉलेजों में भी हृदय रोग से पीड़ित बच्चों के उपचार की व्यवस्था हो। शासकीय मेडिकल कॉलेज में हर तरह की बीमारी के उपचार की व्यवस्था हो। प्रत्येक जिले में हृदय रोग से प्रभावित बच्चों के लिये सर्वेक्षण कराया जा रहा है। जिलों में प्रकरण मिलते ही जाँच की व्यवस्था की जाये।

बैठक में बताया गया कि औसतन प्रति एक हजार बच्चों पर एक बच्चे में जन्मजात हृदय रोग की संभावना रहती है। इस तरह प्रदेश में हृदय रोग से प्रभावित बच्चों की अनुमानित संख्या 30 हजार हो सकती है। इनमें से ऑॅपरेशन योग्य प्रकरण 10 से 15 हजार होंगे। राज्य तथा उसके बाहर के चिन्हित संस्थानों में प्रति वर्ष 2 हजार ऑॅपरेशन कराये जा सकेंगे।

इसके लिये राज्य बीमारी सहायता निधि में 15 करोड़ रुपये का प्रावधान रखा जायेगा। इस तरह के प्रति ऑॅपरेशन पर करीब एक लाख रुपये खर्च होगा। प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों और जिला चिकित्सालयों में विशेषज्ञों द्वारा इस तरह के बच्चों का चिन्हांकन किया जायेगा।

हृदय रोग से प्रभावित बच्चों के ऑॅपरेशन मेडिकल कॉलेज भोपाल, भंडारी हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर इंदौर, भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल भोपाल, इंदौर के सी.एच. अपोलो, बॉम्बे, गोकुलदास और विशेष हॉस्पिटल, भोपाल के चिरायु कार्डियक सेंटर में तथा प्रदेश के बाहर एम्स नई दिल्ली, ऑॅल इण्डिया चाइल्ड हार्ट इंस्टीट्यूट त्रिवेन्द्रम, चेरियन मद्रास मिशन हॉस्पिटल चैन्नई और नारायण हृदयालय मंगलौर में करवाये जायेंगे।

संपर्क

लोक सेवा केंद्र ,एम.पी.ऑनलाइन ,सी.एस.सी.

View Circular – http://mpedistrict.gov.in/MPL/getphoto.aspx?ViewCircular=UcK/7Q97U9M=

Leave a Comment

CLOSESHARE ON: