(पंजीकरण) हरियाणा चारा बिजाई योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

Haryana Chara Bijai Yojana online application / registration process to begin soon, check eligibility, list of documents, complete details here हरियाणा चारा बिजाई योजना ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण प्रक्रिया
Updated: By: No Comments - Leave a Comment

हरियाणा चारा बिजाई योजना आवेदन | Haryana Chara Bijai Yojana Application Form | चारा बिजाई योजना ऑनलाइन पंजीकरण | चारा बिजाई योजना के अंतर्गत किसानों की पात्रता | सूखा चारा बिजाई योजना के अंतर्गत प्रोत्साहन राशि कितनी है

हरियाणा सरकार ने किसानों और पशुपालकों के लिए चारा बिजाई योजना (Chara Bijai Yojana) शुरू की है. जिसके तहत यदि कोई किसान 10 एकड़ भूमि तक चारा उगाकर उसे आपसी सहमति से गौशालाओं को देता है तो सरकार उसे 10 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से पैसा उपलब्ध करवाएगी. यह पैसा किसानों के खातों में डीबीटी के माध्यम से पहुंचाई जाएगी. इससे पशुपालन (Animal Husbandry) में मदद मिलेगी. राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते है तो उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करना होगा. अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना से जुड़ी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,दस्तावेज़ ,पात्रता आदि प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े.

Haryana Chara Bijai Yojana 2022

Haryana government launched the Chaara Bijaee Yojana on 10 May 2022 (Tuesday) to encourage farmers to grow fodder. Farmers can now help gaushalas which have been grappling with fodder shortage amid a rise in the stray cattle population. Under the scheme, farmers who have tied up with gaushalas, will be eligible to receive a financial aid for fodder cultivation.

Under Haryana Chara Bijai Yojana, farmers having tie-up with gaushalas can get financial assistance of Rs. 10,000 per acre for up to 10 acres to cultivate fodder. The number of cow shelters in the state increased from 175 in 2017 to 600 in 2022. Most cow shelters remain overcrowded due to an increase in the stray cattle population. The money will be transferred to the farmers bank account through direct benefit transfer.

The state government has been taking a number of steps in the interest of farmers, and the Chaara-Bijaee Yojana is another step in that direction. In April 2022, Rs. 13.44 crore was distributed among 569 gaushalas in the state for purchasing fodder.

हरियाणा चारा बिजाई योजना 2022 का उद्देश्य

जैसे की आप लोग जानते है की जो राज्य में बहुत सी गौशाला है जिनमे चारे की कमी है। इस योजना के तहत किसानों की मदद से राज्य की गोशालाओं को चारा प्रदान किया जाएगा। Chara Bijai Yojana के अंतर्गत सहायता राशि से न केवल चारे की कमी पूरी की जाएगी, बल्कि किसान भी चारा उगाने के लिए प्रोत्साहित होंगे। इस चारा बिजाई योजना 2022 को सुचारु रूप से चलाने के लिए राज्य सरकार जल्द ही दिशानिर्देश भी जारी करेगी।

Chaara Bijaee Yojana Highlights

Haryana Govt Schemes 2022Popular Schemes in Haryana:Haryana Ration Card Application FormHaryana Solar Inverter Charger Schemeमेरी फसल मेरा ब्यौरा

योजना का नामचारा बिजाई योजना
in EnglishChara Bijai Yojana
राज्यहरियाणा
इनके द्वारा शुरू किया हैकृषि मंत्री जेपी दलाल जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान
उद्देश्यकिसानो को सहायता राशि देकर सूखा चारा उगाने के लिए प्रोत्साहित करना
Haryana Chaara Bijaee Yojana Highlights

हरियाणा चारा बिजाई योजना 2022 का लाभ

  • इस योजना के तहत राज्य के सभी किसानो को शामिल किया जायेगा।
  • चारा बिजाई स्कीम 2022 के अंतर्गत हरियाणा के किसानों को सूखा चारा उगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत किसानों को दस हजार रुपये प्रति एकड प्रोत्साहन राशि के रूप में दिए जाएंगे।
  • हरियाणा चारा बिजाई योजना 2022 के अंतर्गत किसान ज्यादा से ज्यादा १० एकड भूमि पर सूखा चारा उगाकर प्रोत्साहन राशि ले सकते हैं।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य की गौशालाओं में पशुओं के चारे की कमी को पूरा किया जाएगा।
  • लाभार्थीयों को मिलने वाला पैसा उनके बैंक खाते में DBT के माध्यम से ट्रांसफर किया जाएगा।

कृषि मंत्री ने कहा कि चारा बिजाई योजना के आने से किसानों को भी लाभ होगा और प्राकृतिक खेती (Natural Farming) को बढ़ावा भी मिलेगा. साथ-साथ गौशालाओं को भी सुविधा होगी. उन्होंने कहा कि चारा अर्थात तूडे़ के लिए राज्य की 569 गौशालाओं को अप्रैल महीने में 13.44 करोड़ रुपये दिए गए हैं. बता दें कि इस साल सूबे में कंबाइन से कटाई और अन्य कारणों की वजह से सूखे चारे का संकट हो गया है, जिसे राज्य सरकार इस योजना के माध्यम से दूर करने का प्रयास करेगी।

Haryana Chaara Bijaee Scheme 2022 के दस्तावेज़ (पात्रता)

  • आवेदक हरियाणा का स्थायी निवासी होना चाहिए ।
  • लाभार्थी को अपनी भूमि पर सूखे चारे की खेती करनी होगी।
  • राज्य के किसान
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

हरियाणा चारा बिजाई योजना 2022 में आवेदन कैसे करे ?

राज्य के इच्छुक लाभार्थी इस हरियाणा चारा बिजाई योजना 2022 के अंतर्गत सूखे चारे की खेती करके आमदनी प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है तो उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा । क्योकि अभी इस योजना को शुरू करने की घोषणा की है। जैसे ही इस योजना को पूरी तरह से शुरू कर दिया जायेगा। और उसके बाद इस योजना के तहत जैसे ही आवेदन की प्रक्रिया को भी शुरू कर दिया जायेगा हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बता देंगे। इसके बाद हरियाणा के किसान Haryana Chara Bijai Yojana 2022 के तहत आवेदन कर सकेंगे और योजना का लाभ उठा सकेंगे ।

चारा आवागमन पर रोक नहीं

एक सवाल के जवाब में कृषि मंत्री ने कहा कि एक से दूसरे जिले में पशु चारे के आवागमन पर कोई रोक नहीं है. दूसरे राज्यों में सूखा चारा ले जाने पर रोक है. लेकिन उसे भी हटाने के प्रयास किए जा रहे हैं. राज्य सरकार ने सभी जिला उपायुक्तों को निर्देश दिए हैं कि गौशालाओं में पशु चारे की कोई कमी न होने पाए.

किसानों को समय पर बीमा क्लेम देने के निर्देश

कृषि मंत्री ने जमीन, फसल नुकसान और समय पर प्रीमियम इत्यादि की जानकारी के आंकड़ों को आपस में इंटीग्रेट करने के लिए भी कृषि विभाग व कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. फसल बीमा (Crop Insurance) कंपनी के अधिकारियों के साथ बैठक में उन्होंने किसानों को पारदर्शी तरीके व सही किसानों को बीमा क्लेम देने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि किसानों को समय पर उनके फसल खराबे की राशि मिले.

Source / Reference Link: https://www.hindustantimes.com/cities/chandigarh-news/haryana-launches-scheme-for-fodder-growers-101652212473685.html



<h3>
<p></p>
<h3></h3>

Leave a Comment

CLOSESHARE ON:
×