[रजिस्ट्रेशन] राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना आवेदन फॉर्म pdf – 5 लाख की वित्तीय सहायता

Dated: June 14, 2019 | Updated On: June 18, 2019 | By: Karan Chhabra |
[रजिस्ट्रेशन] राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना आवेदन फॉर्म pdf – 5 लाख की वित्तीय सहायता

राजस्थान सरकार ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की तरफ से अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना (Rajasthan Inter Caste Marriage) चला रखी है। जिसके द्वारा प्रदेश की सरकार अंतरजातीय विवाह (Government Inter Caste Marriage Scheme) को बढ़ावा देने और जातियों में विवाह को लेकर हो रहे भेदभाव को खत्म करने के लिए वित्तीय सहायता (Inter Caste Marriage Incentive) प्रदान करेगी। जैसा की आप सभी जानते हैं की आज के समय में युवा और युवती इंटर कास्ट मैरिज कर रहे हैं जिसके वजह से कई बार विवाहित जोड़े को अपना घर भी छोडना पड़ता है। उन्हे शादी करने के बाद कोई परेशानी ना हो इसी वजह से राज्य सरकार ने इस अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना (Rajasthan govt Inter Caste Marriage Scheme) को राज्य में शुरू किया था।

इस सरकारी योजना में मिलने वाली वित्तीय सहायता राशि का इस्तेमाल वे अपनी विवाहित ज़िंदगी में आने वाली शुरुआती परेशानियों को कम करने के लिए कर सकते हैं। सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग की माने तो अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना (Govt Inter Caste Marriage Schemes Benefits) में साल 2011-2012 में 130 जोड़ो को 65 लाख रूपये,वर्ष 2012-2013 में 175 जोड़ों को 87 लाख 50 हजार रुपये और वर्ष 2013-14 में अंतरजातीय शादी करने वाले 261 विवाहित जोड़ों को 7 करोड़ 26 लाख रुपये दिये जा चुके हैं।

अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन राशि योजना (Rajasthan govt Inter Caste Marriage Scheme Online Application form) के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने से पहले उम्मीदवारों को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग राजस्थान की वेबसाइट (SJMS Portal) पर पंजीकरण करना होगा।

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना आवेदन,पंजीकरण फॉर्म

अंतर जाति विवाह लाभ प्रोत्साहन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन (Inter caste marriage Rajasthan Online registration) करने के लिए उम्मीदवारों को नीचे बताए गए चरणों को फॉलो करना होगा:

  • उम्मीदवारों को सबसे पहले Rajasthan SJMS पोर्टल sjms.rajasthan.gov.in पर जाना होगा।
  • जिसके बाद “Redirect to SSO” बटन पर क्लिक करना है।
  • जिसके बाद “Citizen” सेक्शन पर क्लिक करके ‘Bhamashah’ ‘Aadhaar Card’ ‘Facebook’ ‘Google’ ‘Twitter’ पर क्लिक करके एसएसओ आईडी रजिस्ट्रेशन (SSO ID Registration) करना है।
  • SSO Rajasthan ID Login Register

    एसएसओ आईडी रजिस्ट्रेशन करना

  • फिर अपनी एसएसओ पोर्टल पर आईडी और पासवर्ड से लॉगिन (SSO ID Login & Password) करके SJMS Application के लिंक पर क्लिक करना है।
  • राजस्थान इंटर कास्ट मैरिज स्कीम के रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गई जानकारी ठीक से भर कर सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।

इसके अलावा उम्मीदवार अगर चाहे तो ई-मित्र केंद्र से भी अंतर जाति विवाह लाभ प्रोत्साहन योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण (Inter caste marriage registration E-Mitra) कर सकते हैं। इंटर कास्ट मैरिज स्कीम (Antarjatiya Vivah Yojana Rajasthan) में राज्य सरकार ने विवाहित जोड़ों के लिए 5 लाख रूपये का प्रोत्साहन वित्तीय सहायता के रूप में देने का प्रावधान रखा है, जिसमें से 2 लाख 50 हजार रूपये शादी-शुदा जोड़े के जाइंट अकाउंट में 8 साल के लिए फिक्स्ड डिपाजिट के रूप में जमा किए जाएंगे और बाकी के 2.5 लाख रूपये उन्हे अपने वैवाहिक जीवन में दैनिक कार्यों के लिए दिये जाएंगे।

इसके अलावा दंपति जोड़ा इन पैसों का इस्तेमाल नया घर बनाने के लिए भी कर सकता है

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना राजस्थान लाभ,विशेषताएं

अंतर जाति विवाह लाभ प्रोत्साहन योजना के कुछ लाभ और विशेषताएं (Rajasthan govt Inter Caste Marriage Scheme Benefits) निम्न्लिखित हैं:

  • सरकार सुरक्षा देकर अंतर जाति विवाह पर समाज द्वारा लगाये गए प्रतिबंधों को हटाना उद्देश्य है।
  • अंतरजातीय विवाह करने से समाज में जातिगत भेदभाव को खत्म करना है।
  • युवा युवती जो अंतर जाति विवाह करके समाज को एक करने की कोशिश करते हैं उन्हे सुरक्षा देना और प्रोत्साहन के रूप में वित्तीय सहायता देने से समाज की इस कुरीति को खत्म करना।
  • समाज में उंच नीच के अंतर को भी खत्म करना सरकार का उद्देश्य है।

राजस्थान इंटर कास्ट मैरिज स्कीम पात्रता

राजस्थान इंटर कास्ट मैरिज योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास निम्न्लिखित योग्यता होनी चाहिए:

  • आवेदक जोड़े राजस्थान के स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक जोड़े में लड़की की उम्र कम से कम 18 वर्ष और लड़के की उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए।
  • वही उम्मीदवार इस योजना का लाभ ले सकते हैं जिन्होने पहली बार शादी की है, दुबारा विवाह की स्थिति में वे वित्तीय सहायता राशि के पात्र नहीं होंगे।
  • अंतर जाति विवाह लाभ योजना के लिए आवेदकों को 1 साल के अंदर-अंदर आवेदन करना होगा।

राजस्थान इंटर कास्ट मैरिज स्कीम जरूरी दस्तावेज़

  • आवेदक के पास मैरिज सर्टिफिकेट होना चाहिए।
  • वैवाहिक जोड़े के पास अपना आधार कार्ड होना चाहिए।
  • दोनों के पास वोटर कार्ड होना चाहिए।
  • जाति प्रमाण-पत्र आवश्यक है।
  • जन्म प्रमाण-पत्र
  • दोनों की एक संयुक्त फोटो
  • पैन कार्ड की कॉपी
  • युवक, युवती का आय प्रमाण-पत्र

इसके अलावा किसी भी और अन्य जानकारी के लिए आप अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन राशि योजना के दिशा-निर्देश पढ़ सकते हैं या फिर नीचे कमेंट कर सकते हैं।

SAVE AS PDF
Related Content