उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना – योगी आदित्यनाथ सरकार लगाएगी 22 करोड़ पौधे

उत्तर प्रदेश सरकार ‘ग्रीन अर्थ’ की सोच को आगे बढ़ाने के लिए राज्य में उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना 2019 (Vriksharopan Mahakumbh Campaign) की शुरुआत करने जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को हुई कैबिनेट मीटिंग में 13 मुख्य प्रस्तावों पर मुहर लगी। जिनमें 9 अगस्त को क्रांति दिवस “भारत छोड़ोउत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना
Updated: By: 2 Comments - Leave a Comment

उत्तर प्रदेश सरकार ‘ग्रीन अर्थ’ की सोच को आगे बढ़ाने के लिए राज्य में उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना 2019 (Vriksharopan Mahakumbh Campaign) की शुरुआत करने जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को हुई कैबिनेट मीटिंग में 13 मुख्य प्रस्तावों पर मुहर लगी। जिनमें 9 अगस्त को क्रांति दिवस “भारत छोड़ो आंदोलन” की 77वीं वर्षगांठ के मौके पर योगी सरकार राज्य के सभी जिलों में 22 करोड़ पौधे लगाएगी (UP govt. to plants 22 crore saplings) और यूपी पौधारोपण अभियान या सरकारी योजना में इन सभी पौधों की जियोटैगिंग भी की जाएगी।

उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना (Vriksharopan Mahakumbh Drive in UP) में 9 अगस्त को कासगंज में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और प्रयागराज में सीएम योगी पौधरोपण (Uttar Pradesh Paudhagiri Abhiyan) में भाग लेंगे। वन मंत्री दारा सिंह चौहान ने गुरुवार को कहा कि मुख्यमंत्री तीन पवित्र महत्वपूर्ण वृक्षों पीपल, पाकर और बरगद के संयोजन में मेगा हरियाली अभियान का शुभारंभ करेंगे।

पेड़ों की वृद्धि और उनकी उचित निगरानी हो इसके लिए उप सरकार पौधों का पोषण करने के लिए एक संरक्षक भी नियुक्त करेगी।

उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना 2019

योगी सरकार इलाहाबाद में गंगा-यमुना संगम के किनारे परेड ग्राउंड में मुफ्त पौधे भी वितरित करेगी। अगर कोई यूपी पौधारोपण अभियान योजना 2019 का हिस्सा बनना चाहता है तो वह अपने घर या मोहल्ले में लगाने के लिए फ्री पौधे ले जा सकता है। सरकार प्रदेश में 22 करोड़ पौधे लगाकर पिछले सभी रिकॉर्ड को तोड़ना चाहती है।

UP Vriksharopan Mahakumbh 2019
UP Vriksharopan Mahakumbh 2019

इसके साथ ही सरकार ने प्रत्येक ग्राम पंचायत के लिए एक छोटा सा प्लान भी तैयार किया है ताकि किसानों को भी पौधे लगाने में मदद मिल सके। यूपी वृक्षारोपण महाकुंभ योजना (Yogi Govt. to Plant 22 Crore Trees under Vriksharopan Mahakumbh) में ब्लॉक डेवलपमेंट कमेटियों, ग्राम प्रधानों और ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर्स ने भी भाग लिया है।

Read in English : UP Vriksharopan Mahakumbh – Yogi Govt. to Plant 22 Crore Saplings (Trees)

पौधे लगाने से वायु प्रदूषण तो खतम होता ही है साथ में मिट्टी का कटाव भी कम होता है और कम हो रहे भूजल स्तर को रोकने में भी मदद मिलेगी। सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पंजीकृत किसानों और विभिन्न अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को भी इस ग्रीन ड्राइव के लिए चुना है।

उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना पौधागिरी अभियान

यूपी पौधारोपण योजना 2019 में निम्न्लिखित पौधों को चुना गया है जो पूरे राज्य में लगाए जाएंगे और लोगों को मुफ्त में वितरित किए जाएंगे:

  1. सागौन का पेड़
  2. ड्रमस्टिक का पेड़
  3. नीलगिरी (गोंद के पेड़)
  4. आम का पेड़
  5. महुआ का पेड़
  6. जामुन और अमरूद

इसके अलावा भी अन्य सैकड़ों प्रजातियां हैं, जिन्हें लोगों के बीच फ्री में वितरित किया जाएगा। इन 22 करोड़ पेड़ों में से लगभग 7 करोड़ पेड़ वन विभाग द्वारा लगाए जाएंगे और 15 करोड़ पेड़ अन्य विभागों द्वारा लगाए जाएंगे। पेड़ों के संरक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि न केवल हर पौधे को रोपा जाए बल्कि उसकी देखभाल भी की जाए।

UP Vriksharopan Mahakumbh Yojana in English

Uttar Pradesh govt. is going to start Vriksharopan Mahakumbh on the 77th anniversary of Quit India Movement. CM Yogi Adityanath led UP govt. aims to plant 22 crore saplings. The chief minister would launch this mega greenery drive by planting Harishankari, combination of 3 sacred trees – peepul, pakar and banyan – at Jaitikheda in Lucknow.

The honorable governor of UP, Anandiben Patel is also going to participate in Vriksharopan Mahakumbh drive and plant saplings at Ganga forest in Kasganj here. Yogi Adityanath will also distribute saplings absolutely free at parade ground on banks of Ganga-Yamuna confluence in Allahabad.

In order to ensure proper monitoring of growth of trees, majority of saplings planted at village panchayat level would be geotagged. UP govt. has also appointed “tree guardians” to nurture the plants and monitor their growth.

Yogi Govt. to Plant 22 Crore Trees – Vriksharopan Mahakumbh

The state govt. of Uttar Pradesh is all set to break its own previous record of planting trees by planting 22 crore saplings. UP govt. has prepared a micro plan for each gram panchayat to help farmers get saplings and plant them. Yogi Adityanth has included block development committees, gram pradhans and block development officers in its greenery drive.

This decision of Yogi Govt. to Plant 22 Crore Trees would play a crucial role in curbing air pollution, soil erosion and depletion of ground water level. Various farmers registered under Pradhan Mantri Awas Yojana, Swachh Bharat Mission, Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana and beneficiaries of various other schemes in its greenery drive.

UP govt. has chosen saplings for plantation which mainly includes teak, drumstick, eucalyptus (gum trees), mango, mahua, berries, guava besides hundreds of other species. All these saplings would be distributed absolutely free of cost among people.

Out of these 22 crore trees, around 7 crore trees would be planted by the forest department and 15 crore trees by the other departments. Tree guardian will ensure that not only every sapling is planted but also cared for and bring geo-tagging of GPs to check status of plantation.

2 thoughts on “उत्तर प्रदेश वृक्षारोपण महाकुंभ योजना – योगी आदित्यनाथ सरकार लगाएगी 22 करोड़ पौधे”

  1. bahut ACHI PEHAL H,IS ME HAR NAGRIK EAK EAK PODHA MILNA CHHIYE OR JO LOG ISME HELP KARNNA CHHATE H SARKAR KO UNKO ADHIK SE ADHIK MAHUWA K PODHE MUFAT DENE CHAHIYE

    Reply

Leave a Comment

CLOSESHARE ON: