राजस्थान मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना 2019 – बेरोजगारों को नए बिज़नेस के लिए बैंक लोन

Dated: January 9, 2019 | Updated On: May 6, 2019 | By: Karan Chhabra | 1955 Views |

राजस्थान सरकार ने भामाशाह रोजगार सृजन योजना (Bhamashah Rojgar Srijan Yojana – BRSY) का नाम बदलकर मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना (Chief Minister’s Rojgar Srijan Yojana) करने का फैसला किया है। CMRSY योजना को प्रत्येक पंचायत समिति में लाया जाएगा और बेरोजगार युवाओं के लिए नए स्वरोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे। इस सरकारी योजना के अंतर्गत सभी बेरोजगार उम्मीदवार अपना खुद का नया व्यवसाय शुरू करने के लिए बैंकों से लोन ले सकते हैं। ऋण लेने के लिए उम्मीदवारों को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के लिए आवेदन पत्र भरना होगा।

नई CMRSY Scheme को और ज्यादा प्रभावी बनाए के लिए इसमें और अधिक बजट आवंटित किया जाएगा। मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना का उद्देश्य सभी बेरोजगार युवाओं को आत्मनिर्भर बनाना और उन्हें नौकरी करने वालों के बजाय नौकरी देने वाला बनाना है। Micro, small and medium enterprises department मुख्मंत्री रोजगार सृजन योजना (CMRSY) का इम्प्लीमेंटेशन और देख-रेख करेगा।

सीएम रोजगार सृजन योजना (Chief Minister’s Rojgar Srijan Yojana) के तहत राजस्थान में शिक्षित महिलाएं, एससी / एसटी युवा, अन्य वर्गों के विकलांग और बेरोजगार युवा नए व्यवसायों के लिए लोन ले सकते हैं।

राजस्थान मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना (CMRSY)

नए मुख्यमंत्री रोजगार योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  • राजस्थान सरकार प्रत्येक पंचायत समिति में से 100 बेरोजगार युवाओं का चयन करेगा, जिन्हें सब्सिडी के साथ ऋण दिया जाएगा।
  • Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana के तहत ट्रेडिंग और सर्विस के लिए अधिकतम 10 लाख रूपये और निर्माण क्षेत्र (Manufacturing sector) के लिए 25 लाख रूपये तय की गई है।
  • राज्य सरकार इस योजना के लिए पर्याप्त बजट भी आवंटित करेगी जिससे इस स्कीम के दायरे में सुधार होगा और सभी नियोजित युवाओं और महिलाओं को इसका पूरा लाभ मिलेगा।
  • राजस्थान सरकार सभी बेरोजगारों को कौशल प्रशिक्षण (Skill Training) प्रदान करने पर भी ध्यान केंद्रित करेगी और यह सुनिश्चित करेगी की उम्मीदवारों को उपयुक्त नौकरी मिले। इस उद्देश्य के लिए बेरोजगार युवाओं को अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए लोन के साथ-साथ प्रशिक्षण / ट्रेनिंग भी मिलेगी।
  • उद्योग विभाग (Dept. of Industries) लगातार उचित रोजगार देने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है क्योंकि यह कांग्रेस के चुनाव घोषणापत्र का मुख्य वादा था।

इसके अलावा राज्य सरकार एक नई औद्योगिक नीति (industrial policy) भी तैयार कर रही है, जिसमें रोजगार के अवसर बढ़ाने पर ज़ोर दिया जाएगा। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए उम्मीदवार आधिकारिक SSO ID पोर्टल sso.rajasthan.gov.in पर रोजगार सृजन योजना राजस्थान के लिए आवेदन पत्र भर सकते हैं।

राजस्थान सरकार ने पहले ही संबंधित अधिकारियों को इस भामाशाह रोजगार सृजन योजना का नाम बदलकर मुख्मंत्री रोजगार सृजन योजना करने का आदेश दे दिया है।

राजस्थान भामाशाह रोजगार सृजन योजना

राजस्थान सरकार दूसरे राज्यों की बेरोजगार युवाओं के प्रति विभिन्न मॉडलों का अध्ययन करेगी और उन्हे अपने राज्य में लागू करेगी।

Related Content