प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना – अल्पसंख्यक लड़कियों को 51000 रुपये आर्थिक सहायता

Views: 2634 | Dated: October 22, 2017 | Updated On: January 8, 2020 | By: Karan Chhabra | | By | Beneficiaries: |
प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना – अल्पसंख्यक लड़कियों को 51000 रुपये आर्थिक सहायता

शादी शगुन योजना एक नई आगामी केंद्रीय प्रायोजित योजना है जिसे केंद्रीय मंत्रिमंडल से मंजूरी मिल गई है। प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना के तहत सभी ग्रेजुएट मुस्लिम या अन्य अल्पसंख्यक समुदाय लड़कियों को 51,000 रुपये तक की आर्थिक सहायता शादी के उपहार के रूप में प्रदान की जायेगी। मुस्लिम या अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियां जो अपनी शादी से पहले किसी भी वर्ग में अपनी ग्रेजुएट स्तर की पढ़ाई पूरी कर लेती हैं वो इस शादी शगुन योजना का लाभ उठाने के लिए योग्य होंगी।

मौलाना आजाद शिक्षा फाउंडेशन द्वारा सरकार को प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना का प्रस्ताव दिया गया था। इस सरकारी योजना को अल्पसंख्यक मंत्रालय से भी मंजूरी मिल गई है। विवाह सहायता योजना का उद्देश्य अल्पसंख्यक समूहों में बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना है। नरेंद्र मोदी सरकार की यह योजना विशेष रूप से मुस्लिम समुदाय की लड़कियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करने के लिए एक बढ़िया कदम है।

अल्पसंख्यक समुदायों में से कई लड़कियां अपनी ग्रेजुएट स्तर की पढ़ाई पूरी करने का अवसर प्राप्त नहीं कर पाती हैं और 18 वर्ष की आयु पूरी करने से पहले शादी कर लेती हैं। अल्पसंख्यक वर्ग की लड़कियों की शिक्षा को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने MAEF की सिफारिश पर शादी शगुन योजना को लॉन्च करने का निर्णय लिया है।

पीएम शादी शगुन योजना वित्तीय सहायता [51,000 रुपये]

पीएम शादी शगुन योजना का मुख्य उद्देश्य उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए अल्पसंख्यक समूहों की लड़कियों को प्रेरित करना है। मुस्लिम लड़कियों में शिक्षा की स्थिति अच्छी नहीं है लेकिन MAEF और केंद्र सरकार के इस कदम से इस लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी। शादी शगुन योजना मौजूदा बेगम हजरत महल छात्रवृत्ति में एक अतिरिक्त फायदा है, जो छह अधिसूचित अल्पसंख्यक समुदायों – मुस्लिम, ईसाई, सिख, बौद्ध, जैन और पारसी से संबंधित छात्रों को दी जाती है।

पीएम शादी शगुन योजना पात्रता / योग्यता

प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना के तहत 51,000 रुपये का लाभ उठाने के लिए बुनियादी योग्यता मानदंड नीचे दिए गए हैं

  • इस योजना के लाभ केवल मुस्लिम लड़कियां ही उठा सकती हैं।
  • इस योजना के योग्य होने के लिए मुस्लिम लड़कियों को शादी से पहले अपनी ग्रेजुएशन पूरी करनी होगी।
  • इस योजना के लिए एक मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / कॉलेज / से उत्तीर्ण ग्रेजुएट डिग्री आवश्यक है।
  • मौलाना आजाद फाउंडेशन द्वारा वित्त पोषित बेगम हजरत महल छात्रवृत्ति का लाभ लेने वाली लड़कियां भी इस योजना के लिए योग्य हैं।

पीएम शादी शगुन योजना का आवेदन पत्र – ऑनलाइन आवेदन / रजिस्ट्रेशन

एक समर्पित वेब पोर्टल के जरिए शादी शगुन योजना के आवेदन ऑनलाइन माध्यम से आमंत्रित किए जा सकते हैं। मौलाना आजाद शिक्षा फाउंडेशन योजना के बारे में जानकारी प्रदान करने के लिए शादी शगुन योजना के लिए एक वेब पोर्टल तैयार कर रही है।

हालांकि, यह अभी भी स्पष्ट नहीं है कि योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन अथवा ऑफ़लाइन माध्यम से आमंत्रित किये जायेंगे। योजना शुरू होने के बाद ही शादी शगुन योजना के बारे में सारी जानकारी उपलब्ध हो पाएगी।

इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया इस लिंक पर जाएं MAEF Schemes

SAVE AS PDF
Related Content