प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (यूनियन बजट 2019-20) – स्वयं सहायता समूह महिलाओं को 1 लाख का ब्याज सब्सिडी लोन

Read in English
Views: 1070 | Dated: July 6, 2019 | Updated On: September 9, 2019 | By: Karan Chhabra | | By | Beneficiaries: |
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (यूनियन बजट 2019-20) – स्वयं सहायता समूह महिलाओं को 1 लाख का ब्याज सब्सिडी लोन

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यूनियन बजट (Budget FY 2019-20) पेश करते हुए प्रत्येक स्वयं सहायता समूह (Self Help Group – SHGs) की एक महिला को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 1 लाख रूपये (Rs. 1 lakh under Mudra Yojana) तक का लोन देने की भी घोषणा कर दी। बजट पेश करते हुए उन्होने ‘नारी तू नारायणी’ (Nari to Narayani Initiative) को सरकार का नया नारा बताते हुए महिलाओं के आर्थिक विकास पर ज़ोर दिया। जिससे महिलाओं की भागीदारी हर क्षेत्र में बढ़ेगी और पीएम रोजगार सृजन योजना को भी बढ़ावा मिलेगा।

इसके अलावा जिन भी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के पास केंद्र की पीएम जन धन योजना (PM Jan Dhan Scheme) के अंतर्गत बैंक अकाउंट है उन्हे 5,000 रूपये तक की ओवरड्राफ्ट (Rs. 5,000 Overdraft SHG women member) सुविधा का लाभ भी मिलेगा।

साथ ही अब मोदी 2.0 सरकार महिला स्वयं सहायता समूह के लिए ब्याज सबवेंशन प्रोग्राम (Interest Subvention Program for SHG Women) को भी सभी जिलों तक बढ़ाएगी।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) इम्प्लीमेंटेशन, उद्देश्य

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महिलाओं को अपना रोजगार शुरू (Employment Generation Scheme) करने या फिर किसी भी तरह की आर्थिक मदद के लिए 1 लाख रूपये तक का कम से कम ब्याज दर पर सस्ता ऋण उपलब्ध कराने की घोषणा करी। जिसके लिए सरकार के कुछ मुख्य उद्देश्य है जिनको वे पूरा करना चाहती है:

  • नारी एसएचजी ब्याज सब्वेंशन प्रोग्राम (Women SHG Interest Subvention Program) को सभी जिलों तक बढ़ाया जाएगा।
  • नारी तू नारायणी अभियान (Nari to Narayani Initiative) के तहत हर पंजीकृत महिला एसएचजी सदस्य जिसका जन धन बैंक खाता है 5000 रूपये तक का ओवरड्राफ्ट ले सकती है, जो अभी तक नहीं था।
  • 1 लाख तक का मुद्रा लोन देकर ज्यादा से ज्यादा उद्यमिता के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाना। जिससे ज्यादा से ज्यादा रोजगार बढ़ सकें।

केंद्र सरकार ने पीएम मुद्रा योजना, स्टैंडअप इंडिया स्कीम और स्वयं सहायता समूह (Self Help Group – SHGs) जैसी विभिन्न योजनाओं के माध्यम से महिलाओं की भागीदारी को उद्यमिता (Women Empowerment) के क्षेत्र बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया है। निर्मला सीतारमण ने यह भी बताया की इस लोकसभा चुनाव 2019 में महिलाओं ने रेकॉर्ड मतदान किया और 78 महिला सांसद चुनी गई हैं, जो अपने आप में ही एक कीर्तिमान है।

केंद्र की वित्तमंत्री ने कहा की देश को नई ऊंचाइयों तक ले जाना है सरकार ने उज्ज्वला योजना के द्वारा देश की बहुत सारी नारियों को धुएं से छुटकारा दिलाया है और महिलाओं के सम्मान के लिए शौचालय भी बनवाएं हैं।

इसके अलावा महिलाओं के लिए अभी तक केंद्र और राज्य सरकारों ने जितनी भी योजनायें लॉन्च करी हैं उनकी सूची आप नीचे लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं।
केंद्र, राज्य सरकार सभी महिला सशक्तिकरण, विकास योजना सूची 2019

SAVE AS PDF
Related Content