नेशनल ट्रांसपोर्ट / वन नेशन वन कार्ड स्कीम (NCMC) – सभी यातायात, सुविधाओं के लिए यूनिवर्सल कार्ड

Dated: July 6, 2019 | Updated On: July 15, 2019 | By: Karan Chhabra | 976 Views | | By | Beneficiaries: |
National Transport Card Railways Bus Metros

केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 का बजट पेश किया जिसमें आम नागरिकों के लिए राष्ट्रीय परिवहन कार्ड (National Transport Card) को कॉमन मोबिलिटी प्लान (National common mobility plan) के तहत लॉन्च करने की घोषणा कर दी है। देश की महिला वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में वित्त वर्ष 2019 के लिए अपना पहला बजट (Union Budget 2019-20) पेश करते हुए एटीएम की तरह वन नेशन वन कार्ड (ATM like One Nation One Card) को देश के लिए प्रस्तुत किया। इस नेशनल ट्रांसपोर्ट कार्ड (NTC) का इस्तेमाल पूरे देश में परिवहन के विभिन्न साधनों के लिए किया जा सकेगा। इस एटीएम जैसे एक देश एक कार्ड का उपयोग पैन इंडिया में रेलवे, रोडवेज, महानगरों में किया जा सकेगा क्यूंकि हर परिवहन माध्यम के लिए लोगों को अलग से टिकट या कार्ड का इस्तेमाल करना पड़ता है।

नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड स्कीम (NCMC) के तहत लॉन्च किए गए इस एक देश एक कार्ड योजना 2019 (National Transport Card – NTC) का इस्तेमाल देश के अलग-अलग परिवहन साधनों और यातायात सुविधाओं के लिए किया जा सकता है। इसके अलावा बस, रेल और पार्किंग किराये का भुगतान करने के लिए भी इस नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड का इस्तेमाल किया जा सकता है।

एनटीसी को रूपे कार्ड (NTC RuPay Card) की मदद से एक्सेस किया जाएगा। जिसमें नेशनल ट्रांसपोर्ट कार्ड में एमआरओ (मैन्युफैक्चरिंग, रिपेयर और ऑपरेट) की सुविधा देने की बात भी कही गई है।

नेशनल ट्रांसपोर्ट कार्ड / वन नेशन वन कार्ड योजना

वन नेशन वन कार्ड योजना के अंतर्गत नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (NTC One Nation One Card Uses & Benefits) को निम्न्लिखित सुविधाओं में आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है:

मेट्रो किरायाबस यात्रारेलवे टिकट
पैसे निकालनेटोल टैक्सपार्किंग किराया
स्मार्ट सिटीखुदरा दुकानों से खरीदारी करने के लिएपेट्रोल पंप पर

इसके अलावा राष्ट्रीय परिवहन कार्ड या नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड को आप पास की जगह पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

राष्ट्रीय परिवहन कार्ड (NTC)

सभी उपभोक्ता रुपे कार्ड के माध्यम से इन यातायात सेवाओं के लिए भुगतान करने में सक्षम होंगे। इसके अलावा वित्त मंत्री ने अपने भाषण में यह भी बताया कि मोदी 2.0 सरकार का लक्ष्य रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म का है, जिसके साथ वे जल मार्ग का विस्तार करेंगे।

इससे पहले वित्त मंत्री ने कहा कि रेलवे के विकास और यात्री सुविधाओं के लिए पीपीपी मॉडल (Public Private Partnership Relationship Model) लागू किया जाएगा और देश में रेल ढांचे के विकास के लिए अतिरिक्त 50 लाख करोड़ रुपये के निवेश की जरूरत होगी।

मोदी 2.0 सरकार की महिला वित्त मंत्री ने यह भी बताया की पिछले पांच साल में जिन योजनाओं को शुरू किया गया है, उन सब में तेजी लाई जाएगी औरअगले कुछ वर्षों में भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था में बदलना है। जो अभी तक पाँच वर्षों की मेहनत से 2.73 ट्रिलियर डॉलर तक पहुंच गई है।

Related Content