महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्ज मुक्ती योजना – किसानों का 2 लाख का ऋण माफ / आवेदन प्रक्रिया

Read in English
Views: 10398 | Dated: December 23, 2019 | Updated On: December 23, 2019 | By: Karan Chhabra |
महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्ज मुक्ती योजना – किसानों का 2 लाख का ऋण माफ / आवेदन प्रक्रिया

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार बनने के बाद शनिवार (21 दिसम्बर 2019) को किसानों के लिए महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्जमुक्ती योजना की घोषणा कर दी है। अपने न्यूनतम साझा कार्यक्रम (सीएमपी) के तहत इस सरकारी योजना का ऐलान किया गया। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने किसान कर्ज माफी योजना 2019 की घोषणा विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन करी। जिसमें उन्होने बताया की 30 सितम्बर 2019 तक किसानों द्वारा लिए गए फसल ऋण को उनकी सरकार द्वारा माफ किया जाएगा। किसान महाराष्ट्र किसान कर्ज माफी योजना 2019-20 के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया आप नीचे देख सकते हैं।

जैसा की आप अभी जानते हैं की शिवसेना ने सरकार बनाने से पहले यह ऐलान भी किया था की अगर उनकी सरकार सत्ता में आती है तो सबसे पहले वह महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्जमुक्ती योजना को प्रदेश में शुरू करेंगे। अभी के लिए किसान कर्ज माफी योजना 2020 में 2 लाख तक का ऋण ही माफ किया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 10 रूपये की शिव थाली योजना का भी ऐलान किया।

10 रूपये की शिव थाली योजना की घोषणा अभी कुछ दिन पहले करी थी पर शनिवार को इसकी शुरुआत कर दी है जिसके तहत 50 जिलों में इसको शुरू किया जा चुका है।

महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्जमुक्ती योजना 2019

महात्मा ज्योतिबा फुले किसान ऋण माफी योजना में जिन भी किसानों ने समय पर कर्ज का भुगतान किया है उनके लिए एक विशेष योजना लाई जाएगी। जिसमें उन्हे ज्यादा फसल ऋण उपलब्ध कराया जाएगा और इसके साथ ही अन्य लाभ भी दिये जाएंगे। महाराष्ट्र के वित्त मंत्री जयंत पाटिल ने कहा कि कर्ज माफी शर्तरहित होगी और इसका विवरण भविष्य में मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी किया जाएगा। अभी के लिए जिन भी किसानों का 30 सितम्बर 2019 तक कर्ज बकाया है उन्ही को स्कीम का लाभ दिया जाएगा और योजना का पहला चरण मार्च से शुरू होगा।

महात्मा ज्योतिबा फुले किसान कर्ज माफी योजना 2020 के माध्यम से सभी छोटे-सीमांत किसानों को लाभ मिलेगा। इसके साथ ही वे किसान जो गन्ने, फलों के साथ अन्य पारंपरिक खेती करते हैं वे भी इसके अंतर्गत कवर किए जाएंगे। राज्य के कोष पर इसका कितना प्रभाव पड़ेगा इसकी जानकारी सरकार ने नहीं बताई है।

विधानसभा सत्र समाप्त होने के बाद एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा की कर्जमाफी योजना में कम से कम दस्तावेज जमा करने होंगे और परेशानी नहीं होगी।

महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्ज माफी योजना – आवेदन प्रक्रिया

जैसा की सीएम उद्धव ठाकरे ने बताया की किसान कर्जा माफी योजना (Maharashtra Mahatma Jyotirao Phule Shetkari Loan Waiver Scheme Apply Offline) के लिए कम से कम दस्तावेज जमा करने होंगे इसी बात को ध्यान में रख कर उन्होने बताया की जिस भी किसान का लोन बकाया है उसको अपना आधार कार्ड और बैंक की पास बुक लेकर बैंक में जाना है। जहां पर उससे कुछ प्रक्रिया को पूरा करवाया जाएगा और लोन की राशि उसके खाते में ट्रान्सफर कर दी जाएगी। सभी लाभार्थी यह ध्यान रखें की इस महात्मा जोतिराव फुले शेतकरी कर्ज माफी योजना में ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म नहीं भरवाये जाएंगे।

इसके अलावा महात्मा ज्योतिबा फुले किसान कर्ज माफी योजना 2020 को किसानों को ठीक तरीके से समझाने के लिए और कर्जमाफी प्रक्रिया की बेहतर जानकारी देने के लिए एक विशेष फिल्म बनाई जाएगी। जिसमें उनको सभी जानकारी आसान शब्दों में समझाई जाएगी। उनहिने यह भी बताया की किसी को भी पिछली सरकार की कर्जमाफी योजना की तरह लंबी कतार में नहीं लगना होगा।

महाराष्ट्र किसान कर्ज माफी योजना – पात्रता व शर्तें

मुख्यमंत्री किसान फसल ऋण माफी योजना का लाभ लेने के लिए आवेदकों को निम्न्लिखित पात्रता व शर्तों (Maharashtra Mahatma Jyotirao Phule Shetkari Loan Waiver Scheme Eligibility Criteria) को पूरा करना होगा:

  • आवेदक किसान के पास आधार कार्ड नंबर होना चाहिए।
  • बैंक अधिकारी सिर्फ उस व्यक्ति के अंगूठे का निशान लेगा।
  • सरकारी नौकरी कर्मचारी या वह किसान जो आयकर देता हो योजना का लाभ नहीं ले सकता।
  • जिस किसान के पास बैंक में खाता नहीं है वह भी योजना का लाभ नहीं ले सकता।

इसके अलावा किसी अन्य जानकारी के लिए आप नीचे कमेंट कर सकते हैं या किसान कल्याण विभाग में संपर्क कर सकते हैं।

SAVE AS PDF
Related Content