अटल निर्माण श्रमिक आवास योजना (ग्रामीण) महाराष्ट्र 2019 – मजदूरों को अपने घर निर्माण के लिए 1.5 लाख रूपये सहायता

Read in English
Views: 2906 | Dated: January 28, 2019 | Updated On: September 12, 2019 | By: Karan Chhabra |
अटल निर्माण श्रमिक आवास योजना (ग्रामीण) महाराष्ट्र 2019 – मजदूरों को अपने घर निर्माण के लिए 1.5 लाख रूपये सहायता

महाराष्ट्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले निर्माण कार्यों में लगे हुए मजदूरों के लिए अटल निर्माण श्रमिक आवास योजना (ग्रामीण) 2019 शुरू करने जा रही है। महाराष्ट्र में निर्माण श्रमिक आवास योजना के तहत, राज्य सरकार मजदूरों को 1.5 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। इस सरकारी योजना के अंतर्गत दी जाने वाली राशि का उपयोग मजदूर अपने पक्के घर बनाने या फिर मौजूदा घरों को पक्के घरों में बदलने के लिए कर सकते हैं।

महाराष्ट्र श्रम विभाग (महाराष्ट्र शासन, कामगार विभाग) ने इस कल्याणकारी योजना को निर्माण श्रमिकों के लिए आवास योजना को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (Pradhan Mantri Awas Yojana – PMAY) के एक भाग के रूप में लॉन्च किया है। महाराष्ट्र का आवास विभाग (Housing department of Maharashtra) अटल निर्माण श्रमिक आवास योजना 2019 (Atal Construction Workers Awas Yojana) के इम्प्लीमेंटेशन के लिए एक नोडल एजेंसी की तरह काम करेगा।

राज्य सरकार निर्माण श्रमिक आवास योजना ग्रामीण को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए भूमि की खरीद करेगी, जिसके लिए वे अतिरिक्त सहायता प्रदान करने के लिए भी सक्रिय रूप से विचार कर रही है।

महाराष्ट्र अटल निर्माण श्रमिक आवास योजना

राज्य सरकार लोकसभा चुनाव और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले लॉन्च की गई इस योजना से निर्माण श्रमिकों को अपनी ओर आकर्षित करने की पूरी कोशिश कर रही है, जिसके तहत 1.5 रूपये की राशि सहायता के रूप में दी जाएगी। नए घरों के निर्माण या मौजूदा घरों के पुनर्निर्माण के लिए योग्यता और पात्रताएँ नीचे दी गई हैं:

  • सभी निर्माण श्रमिकों को महाराष्ट्र भवन और अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड (Maharashtra Building and Other Construction Workers Welfare Board – MBOCWWB) में पंजीकृत होना जरूरी है।
  • MBOCWWB में निर्माण श्रमिकों का पंजीकरण 1 वर्ष से अधिक की अवधि में होना चाहिए।
  • सभी निर्माण मजदूरों के पास पहले से पक्के मकान नहीं होने चाहिए।

सभी योग्य निर्माण मजदूर जो ऊपर बताये गए पात्रता मानदंड को पूरा करते हैं वही इस योजना का लाभ ले सकेंगे। कंस्ट्रक्शन वर्कर्स हाउसिंग स्कीम (ग्रामीण) महाराष्ट्र के तहत घरों का एरिया 269 वर्गफुट का होगा।

आधिकारिक श्रम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में लगभग 26 लाख निर्माण श्रमिक हैं। इसमें से लगभग 12.5 लाख निर्माण श्रमिक MBOCWWB के साथ पंजीकृत हैं। इन पंजीकृत श्रमिकों में से लगभग ग्रामीण क्षेत्रों से 4 लाख निर्माण श्रमिक हैं जिनके पास पक्के मकान नहीं हैं।

महाराष्ट्र सरकार दस्तावेजों के सफल सत्यापन (Verification) के बाद ही इन आवेदनों को स्वीकृति (Approvals) प्रदान करेगी।

SAVE AS PDF
Related Content