कर्नाटक लैपटॉप भाग्य योजना – अनुसूचित जाति / जनजाति छात्रों के लिए मुफ्त लैपटॉप स्कीम

Updated: By: No Comments - Leave a Comment

कर्नाटक सरकार ने राज्य में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे अनुसूचित जाति / जनजाति के छात्रों को मुफ्त लैपटॉप उपलब्ध कराने के लिए एक नई योजना शुरू की है जिसका नाम “लैपटॉप भाग्य” योजना है। इस योजना के लिए राज्य के उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) द्वारा अगले वर्ष शिक्षा बजट में 112 करोड़ की राशि निर्धारित की गई है।

लैपटॉप भाग्य – मुफ्त लैपटॉप योजना

सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों, पॉलीटेक्निक और सरकारी डिग्री कॉलेजों में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्र इस योजना के योग्य होंगे। इस योजना से राज्य भर में पड़ने वाले 35000 अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों को फायदा होगा।

सरकार शीघ्र ही लैपटॉप के लिए कंपनियों से टेंडर आमंत्रित करेगी। एक अनुमान के आधार पर सरकार प्रत्येक लैपटॉप के लिए 32000 से 35000 रुपए खर्च करेगी। लैपटॉप भाग्य मुफ्त लैपटॉप योजना के लिए छात्र केवल अनुसूचित जाति / जनजाति समुदाय से संबंधित होना चाहिए और वह कोर्स में प्रथम वर्ष का छात्र होना चाहिए।

बंगलौर विश्वविद्यालय में पहले से एक ऐसी योजना चल रही है इस योजना में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति का जो छात्र और छात्रा पोस्ट ग्रेजुएशन कर रहा है उसको मुफ्त लैपटॉप दिया जाता है और कोर्स पूरा होने पर उसको लैपटॉप वापस करना होता है। लेकिन लैपटॉप भाग्य योजना में, छात्र या छात्रा को अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद भी लैपटॉप वापस नहीं करना होगा।

इस योजना से निश्चित रूप में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के क्षात्रों को लाभ मिलेगा, क्योंकि उन क्षात्रों की घर के आर्थिक हालात इतने ठीक नहीं होते कि वो लैपटॉप खरीद सकें।

SAVE AS PDF
Related Content

Leave a Comment

CLOSESHARE ON: