हरियाणा कैशलेस ट्रीटमेंट योजना 2018 – कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए 5 लाख का मुफ्त इलाज

Read in English
Views: 1404 | Dated: November 15, 2018 | Updated On: September 19, 2019 | By: Karan Chhabra |
हरियाणा कैशलेस ट्रीटमेंट योजना 2018 – कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए 5 लाख का मुफ्त इलाज

हरियाणा सरकार राज्य के सभी कर्मचारियों और पेंशनधारियों के लिए एक आसान कैशलेस ट्रीटमेंट योजना शुरू कर चुकी है। इस योजना के तहत, सभी लाभार्थियों को 5 लाख तक की नकद-रहित चिकित्सा सेवाएं मिलती हैं। यह योजना राज्य में 30 नवंबर 2017 को लागू हुई थी।

इस कैशलेस उपचार योजना (Cashless Treatment for Haryana Govt Employees & Pensioners) के अंतर्गत उपचार हरियाणा स्वास्थ्य विभाग (Health Department Haryana) के दिशा-निर्देशों में दिया जाएगा। इस योजना का लाभ केवल नियमित सरकारी कर्मचारियों और पेंशनधारियों को मिलेगा। पेंशनभोगी को वित्त विभाग (Finance Department) और NIC की रिपोर्ट के आधार पर पहचाना जाएगा जबकि सरकारी कर्मचारियों का (Human Resource Management System – HRMS) डाटा के आधार पर चयन किया जायेगा।

हालांकि, स्वास्थ्य विभाग इस डाटा को आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर देगा, जिससे की अस्पताल स्वास्थ्य विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर लाभार्थियों का विवरण देख सकें।

कैशलेस ट्रीटमेंट स्कीम हाइलाइट

  • इस योजना का लाभ राज्य सरकार के पेंशनधारियों और नियमित कर्मचारियों के लिए है।
  • पति या पत्नी और राज्य सरकार पर निर्भर कर्मचारियों और पेंशनधारक इस योजना का लाभ प्राप्त करने में सक्षम नहीं होंगे।
  • हालांकि, पति या पत्नी और राज्य सरकार पर निर्भर कर्मचारियों और पेंशनधारियों को 6 मई, 2005 को जारी किए गए प्रतिपूर्ति की मौजूदा नीति के अनुसार चिकित्सा सेवा मिल जाएंगी।
  • लाभार्थी 5 लाख रुपए तक की चिकित्सा सेवायें प्राप्त कर पायेंगे। यदि इलाज की राशि बढ़ गई है, तो कर्मचारी या पेंशनभोगी को बाकी राशि का भुगतान खुद करना पडेगा।
  • हरियाणा सरकार पहचान पत्र जारी करेगी जो आधार कार्ड के साथ नियमित कर्मचारियों और पेंशनधारियों को जोड़ेगी, जबकि पेंशनरों को पेंशन पेमेंट ऑर्डर (PPO) योजना के लाभों को उठाने के लिए पहचान पत्र प्रमाण के रूप में रखना होगा।

छह रोगों की सूची

नकद रहित उपचार योजना केवल छह रोगों के लिए लागू होगी, जैसा कि नीचे दिया गया है:

मस्तिष्क रक्तस्त्राव (Cerebral hemorrhage) कार्डियाक आपातकाल (Cardiac emergency)
कोमा दुर्घटना (Accident)
कैंसर का तीसरा और चौथा चरण बिजली (Current)

इस सरकारी योजना के तहत लाभार्थी राज्य सरकार के सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों और सरकारी सहायता प्राप्त मेडिकल कॉलेजों, सभी जिला अस्पतालों, राज्य सरकार के अन्य स्वास्थ्य संस्थानों और हरियाणा सरकार के तहत सूचीबद्ध सभी निजी अस्पतालों में इलाज करा पायेंगे।

इच्छुक उम्मीदवार हरियाणा सरकार के तहत सभी सूचीबद्ध अस्पतालों की सूची डाउनलोड कर सकते हैं। पीडीएफ डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

हरियाणा मंडल अस्पताल

SAVE AS PDF
Related Content