दिल्ली किसान आय बढ़ोतरी सौर योजना – किसान अपने खेतों में सोलर पैनल लगवाये और प्रति एकड़ 1 लाख सालाना पायें

Dated: November 12, 2018 | Updated On: April 8, 2019 | By: Karan Chhabra | |
Delhi Mukhyamantri Kisan Aay Badhotri Solar Yojana Farmers

दिल्ली सरकार की कैबिनेट समिति ने किसानों के लिए एक नई मुख्यमंत्री किसान आय बढ़ोतरी सौर योजना (Mukhyamantri Kisan Aay Badhotri Solar Yojana) को मंजूरी दे दी है। इस योजना के तहत, किसान निजी कंपनियों को अपनी कृषि भूमि के एक तिहाई हिस्से में सौर पैनल (Solar Panel) स्थापित करने की अनुमति दे सकते हैं। जिसके तहत किसानों को अगले 25 वर्षों में 6% की वार्षिक वृद्धि (Annual growth) के साथ 1 लाख रुपये प्रति एकड़ मिलेंगे और 25 वें वर्ष के बाद प्रत्येक किसान को निजी कंपनियों से किराये के रूप में 4.04 लाख रूपये प्रति एकड़ प्राप्त होंगे।

यह योजना विशेष रूप से कृषि के कार्यो में लगे हुए किसानों की कुल वार्षिक आय में बढ़ोतरी के लिए बनाई गई है। सौर पैनल लगाने की अनुमति देकर प्रत्येक किसान अपनी वर्तमान वार्षिक आय को 3 से 4 गुना तक बढ़ा सकते हैं।

राज्य सरकार ने यह योजना किसानों के कल्याण के लिए शुरु की है और कृषि के कार्यो में गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने का भी निर्णय लिया है। इसके अलावा, इस योजना का एक छुपा हुआ मुख्य उद्देश्य प्रदूषण को कम करना है क्योंकि सौर पैनलों पर निर्भरता प्रदूषण को काफी हद तक कम कर देगी।

किसानों के लिए दिल्ली मुख्यमंत्री किसान आय बढ़ोतरी सौर योजना

दिल्ली सरकार ने किसानों की कुल आय को 3 से 4 गुना बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री किसान आय बढ़ोतरी सौर योजना की शुरुआत करी है। दिल्ली में किसानों के लिए इस सौर योजना की मुख्य विशेषताएं नीचे दी गई हैं:

  • कृषि से संबंधित गतिविधियों में लगे सभी किसान निजी कंपनियों को अपनी कृषि भूमि पर सौर पैनल लगाने की अनुमति दे सकते हैं। हालांकि, निजी कंपनियों को कुल खेत के एक तिहाई से अधिक हिस्से पर सौर पैनल स्थापित करने की अनुमति नहीं है।
  • किसानों को 25 साल तक सलाना 6% की वृद्धि के साथ किराया के रूप में 1 लाख रुपए प्रति एकड़ मिलेंगे और 25 वें वर्ष के बाद, किसानों को निजी कंपनियों से किराए के रूप में 4.04 लाख प्रति एकड़ मिलेंगे।
  • अपनी कृषि भूमि पर सौर ऊर्जा प्लांट स्थापित करने के लिए कोई अग्रिम लागत नहीं लगेगी।
  • ट्रैक्टरों को असानी से गुजरने के लिए सौर पैनलों को सतह से 3.5 मीटर ऊपर लगाया जाएगा।
  • प्रत्येक किसान को प्रत्येक एकड़ भूमि के लिए प्रति वर्ष 1000 यूनिट की मुफ्त बिजली मिलेगी।
  • वर्तमान में किसान की एक एकड़ से 20,000 से 30,000 रुपये की कमाई होती है, पर इस योजना के बाद किसान की कमाई कई गुना बढ़ जाएगी।
    Delhi Kisan Aay Badhotri Solar Yojana                                              दिल्ली मुख्यमंत्री किसान आय बढ़ोतरी सौर योजना
  • अधिकारियों के अनुसार, 1 मेगावाट सौर ऊर्जा प्लांट लगाने के लिए छह एकड़ जमीन की आवश्यकता होती है और इससे लगभग प्रतिवर्ष 13 लाख यूनिट बिजली पैदा हो सकती है।

दिल्ली सरकार इस फार्म सौर योजना का उपयोग करके 300 से 400 करोड़ रुपये बचा सकती है। सौर ऊर्जा एक क्लीन स्रोत है जो प्रदूषण को कम करने में भी मदद करेगी। प्रदेश सरकार ने उम्मीद जताई है की अगले 8 से 9 महीने में किसान को इस योजना से बहुत फायदा मिलेगा।

दिल्ली किसान की आय बढ़ाने के लिए सौर पैनल योजना 2018

सौर ऊर्जा डेवलपर्स ने दिल्ली सरकार के साथ कई समझौतो पर हस्ताक्षर किए, जैसे की स्वास्थ्य, लोक निर्माण, दिल्ली जल बोर्ड और कई अन्य विभाग। विभिन्न सरकारी विभाग जो की थोक बिजली उपभोक्ता हैं उन्हें कमर्शियल दरों पर और ज्यादा टैरिफ स्लैब पर बिजली मिलती हैं। बिजली खरीद की वर्तमान दर 9 रुपये प्रति यूनिट है और इस योजना के शुरू होने के बाद, इन विभागों को बिजली 4 से 5 रुपये प्रति यूनिट मिलेगी। Mukhyamantri Kisan Aay Badhotri Solar Yojana                                                                   मुख्यमंत्री किसान आय बढ़ोतरी सौर योजना

अभी तक, इस योजना में लगभग 5 निजी कंपनियों ने दिलचस्पी दिखाई है और इस सौर ऊर्जा परियोजना में निवेश करने के लिए तैयार हैं। किसी भी किसान को इस प्लांट के निर्माण के लिए इस योजना में कोई शुल्क या निवेश नहीं करना होगा। दिल्ली सरकार National Hydroelectric Power Corporation (RESCO) मॉडल के आधार पर इस योजना को लागू करेगी।

Related Content