दिल्ली उद्यमिता पाठ्यक्रम योजना 2019 – डिग्री के लिए 5000, कक्षा 11वीं और 12वीं छात्रों के लिए 1000 रूपये

Dated: February 15, 2019 | Updated On: April 13, 2019 | By: Karan Chhabra | 2513 Views |
दिल्ली उद्यमिता पाठ्यक्रम योजना 2019

दिल्ली सरकार ने 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले प्रत्येक छात्रों को 1,000 रुपये प्रतिवर्ष देने का फैसला किया है। राज्य सरकार द्वारा चलाये जा रहे सभी स्कूलों के कक्षा XI और XII के छात्र इस योजना के पात्र होंगे। इसके अलावा, सरकार प्रत्येक सरकारी कॉलेज के छात्रों को अपने उद्यमिता पाठ्यक्रम के तहत 5,000 रूपये भी प्रदान करेगी। सरकार का यह नया कदम छात्रों को उद्यमिता सिखाकर बेरोजगारी की समस्या से निपटने में सहायता करेगी।

दिल्ली सरकार की यह नई योजना छात्रों के नेतृत्व और कौशल को बढ़ाएगी और उन्हे उद्यमी बनाने में मदद मिलेगी। इस सरकारी योजना का मुख्य उद्देश्य छात्रों को नौकरी ढूंढने वालों की जगह नौकरी देने वाला बनाना है।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को पाठ्यक्रम से जुड़ा एक नोट जारी किया और साथ ही उन्होंने सभी सरकारी स्कूलों को निर्देश भी दिये की जुलाई 2019 के पहले सप्ताह से यह पाठ्यक्रम लॉन्च हो जाना चाहिए।

दिल्ली उद्यमिता पाठ्यक्रम 2019

उद्यमी बनने के लिए छात्रों को व्यवसाय में जोखिम उठाना सिखाया जाएगा। यदि 1% सरकारी स्कूल / कॉलेज के छात्र भी उद्यमी बनते हैं, तो भारत निश्चित रूप से एक महाशक्ति बन जाएगा। दिल्ली उद्यमिता पाठ्यक्रम का भी समान प्रभाव होने जा रहा है।

पूरा देश रोजगार के अवसरों की कमी से जूझ रहा है और प्रत्येक बीतते दिन के साथ, नौकरी चाहने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। तमाम स्कूली बच्चे रोजगार पाने के बजाय रोजगार पैदा करना चाहते हैं। इस विचार प्रक्रिया को नई दिल्ली उद्यमिता सोच पाठ्यक्रम द्वारा हल किया जा सकता है। उद्यमिता पाठ्यक्रम योजना के तहत दिल्ली के एक हजार सरकारी स्कूलों में 9वीं से 12वीं कक्षा के सात लाख छात्रों के लिए हर रोज एक घंटे की कक्षाएं लगेंगी।

दस हजार प्रशिक्षक यह कक्षाएं लेंगे। सरकार का लक्ष्य है कि 2019 की मई-जून की गर्मी की छुट्टिंयों में इस पाठ्यक्रम का मूल प्रशिक्षण पूरा कर लिया जाए। इसमें 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को दो ग्रुप में बांटा गया है। इसके तहत 9वीं व 10वीं कक्षा को जूनियर हाई स्कूल और 11वीं व 12वीं कक्षा को सीनियर हाई स्कूल में बांटा गया है। दोनों ग्रुप के लिए उद्यमिता पाठ्यक्रम को शैक्षिक सत्र 2019-20 में तैयार किया जाएगा।

Related Content