बिहार पीड़िता योजना 2019 – रेप और एसिड अटैक पीड़ित महिलाओं को 10 लाख रूपये मुआवजा

Read in English
Views: 888 | Dated: October 14, 2019 | Updated On: October 14, 2019 | By: Karan Chhabra |
बिहार पीड़िता योजना 2019 – रेप और एसिड अटैक पीड़ित महिलाओं को 10 लाख रूपये मुआवजा

बिहार सरकार ने बहन-बेटियाँ जो रेप और एसिड अटैक से पीड़ित (Bihar Victim Compensation Scheme 2019) हैं उनके लिए मुआवजे की राशि को बढ़ाकर 3 लाख रुपए से 10 लाख कर दिया है। नितीश सरकार की इस रेप और एसिड अटैक पीड़िता योजना (Bihar Rape & Acid Attack Victim Compensation Scheme) को सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के बाद शुरू किया गया है। इस सरकारी योजना के तहत दी जाने वाली राशि पूरी तरह से प्रदेश की सरकार द्वारा वहन की जाएगी। राज्य सरकार के कानून मंत्रालय ने इस रेप और एसिड अटैक पीड़िता योजना (Bihar Rape & Acid Attack Victim Compensation Scheme Amendment) में संसोधन का फैसला किया है।

पहले रेप और एसिड अटैक विक्टिम्स को इस स्कीम (Rape & Acid Attack Victim Compensation Scheme in Bihar) में 3 लाख दिये जाते थे पर कानून मंत्री द्वारा की गई बैठक में संसोधन करने पर विचार किया गया जिसमें अब सभी पीड़िता महिलाओं, बेटियों को अधिकतम 10 लाख रूपये मुआवजा दिया जाएगा। इसके अलावा अगर पीड़िता की उम्र 14 साल या इससे कम है तो मुआवजे की राशि को 50 प्रतिशत तक बढ़ाया जा सकता है।

विशेष सचिव यू़ एऩ पांडेय ने कहा कि इसके अलावा तेजाब पीड़िता का चेहरा अगर स्थायी रूप से विकृत हो गया हो या आंख को नुकसान हुआ हो, तो ऐसी स्थिति में अधिकतम 10 हजार रुपये प्रति महीने आजीवन मुआवजा देने का भी निर्णय लिया गया है।

रेप व एसिड अटैक पीड़िता योजना

इस बिहार पीड़ित मुआवजा (संशोधन) योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं (Rape & Acid Attack Victim Compensation Scheme Highlights) और अन्य जानकारी निम्न्लिखित है:

  • पहले मुआवजे की राशि 3 लाख थी उसके बाद बढ़कर 7 लाख हो गई पर अब इसको अधिकतम 10 लाख रूपये कर दिया गया है। इसके साथ ही अगर महिला पढ़ी-लिखी है तो उसके लिए नौकरी की व्यवस्था भी प्रदेश की सरकार कराएगी।
  • 14 साल या इससे कम उम्र की पीड़िता के लिए राशि को 10 लाख रूपये से भी ज्यादा बढ़ाया जा सकता है जिससे उसकी पढ़ाई-लिखाई के साथ शादी में किसी भी तरह से पैसों की कमी ना आए।
  • तेजाब पीड़िता का चेहरा अगर स्थायी रूप से विकृत हो गया हो या आंख को नुकसान हुआ हो, तो ऐसी स्थिति में अधिकतम 10 हजार रुपये प्रति महीने आजीवन मुआवजा देने का भी निर्णय लिया गया है। जो अभी तक किसी भी राज्य की सरकार ने नहीं लिया है।
  • इसके अलावा इस राशि के साथ सरकार से पीड़िता स्वरोजगार शुरू करने के लिए भी लोन ले सकती हैं।

मुआवजे की राशि की मांग पीड़िता महिला या उसका परिवार डीसी ऑफिस से कर सकती है। केंद्र सरकार ने भी महिलाओं के लिए भी बहुत सी योजनाएँ चला रखी हैं जिससे लोगों में महिलाओं को लेकर जागरूकता लाई जा सके और महिला सशक्तिकरण को मोदी सरकार हर क्षेत्र में बढ़ावा दे रही है।

वर्ष 2014 में मुआवजे की राशि 3 लाख रुपए थे आवेदन कैसे करना (Apply Rape & Acid Attack Victim Compensation Scheme Bihar) है और मुआवजे की राशि कैसे प्राप्त होगी इसकी जानकारी आप नीचे पीडीएफ़ में देख सकते हैं:

इसके अलावा किसी भी अन्य जानकारी के लिए आप http://bslsa.bih.nic.in/Victim_Acid_Attack.html लिंक पर क्लिक कर सकते हैं, यहाँ पर आपको पूरी जानकारी विस्तारपूर्वक मिल जाएगी।

SAVE AS PDF
Related Content