पंजाब की आटा-दाल योजना कार्ड को नए स्मार्ट कार्ड के साथ बदल दिया जाएगा

Dated: April 27, 2017 | Updated On: April 9, 2019 | By: Karan Chhabra | |
Atta Dal Scheme

तमिलनाडु में स्मार्ट राशन कार्ड के समान, पंजाब की नवगठित राज्य सरकार ने आटा-दाल योजना के लिए ब्लू राशन कार्ड को नए स्मार्ट कार्ड के साथ बदलने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार ने नए स्मार्ट कार्ड के साथ पुराने मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की तस्वीरों वाले पुराने नीले रंग के कार्डों को बदलने के लिए अधिकारियों को आदेश दे दिए है। पिछली सरकार के कार्यकाल में भोजन और आपूर्ति विभाग द्वारा 30 लाख से अधिक लाभार्थियों को आटा-दाल योजना कार्ड जारी किए गए थे।

पंजाब की नयी राज्य सरकार पहले से ही आटा-दाल योजना के लिए लाभार्थियों की समीक्षा के आदेश दे चुकी है। योजना के अंतर्गत पुराने कार्ड अब अमान्य हैं और पुराने ब्लू कार्ड की जगह पर नए स्मार्ट कार्ड जारी किए जाएंगे।

आटा दाल योजना के अंतर्गत जारी किए जाने वाले नए स्मार्ट कार्ड को लाभार्थी की आधार संख्या से जोड़ा जाएगा। यह योजना कंप्यूटरीकृत हो जाएगी और प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी।

गरीबी रेखा से नीचे के लोगों के लिए आटा और दालों के वितरण के लिए स्मार्ट कार्ड योजना के कार्यान्वयन में पारदर्शिता लाने और किसी भी फर्जी लाभार्थियों को दूर करने में मदद करेगा।

पंजाब के खाद्य आपूर्ति विभाग के अनुसार नई आटा-दाल योजना से राज्य में 1.42 करोड़ लाभार्थियों को लाभ प्राप्त होगा। इस योजना के तहत गेहूं 2 रुपये प्रति किलोग्राम से 30 kg की पैकिंग में प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत प्रत्येक सदस्य को बिना किसी ऊपरी सीमा के हर माह के लिए 5 किलो गेहूं मिलेंगे।

आटा-दाल योजना के तहत गेहूं का वितरण विभाग द्वारा लाभार्थी के दरवाजे पर किया जाएगा। आटा-दला स्कीम के बारे में विस्तृत जानकारी नीचे दी गई लिंक पर आधिकारिक वेबसाइट पर पाई जा सकती है।

http://foodsuppb.nic.in/newattadal.html

Related Content